Annual Report

वार्षिक प्रतिवेदन

माननीय मुख्यातिथि ब्रिगेडियर ---------------- और अध्यक्ष विद्यालय प्रबंधन समिति, -------- विशिष्ट अतिथि और आदर योग्य अभिभावकगण। यह हमारे लिए अति सम्मान का विषय है कि आप सभी यहां उपस्थित हैं। मैं हृदय की गहराइयों से आप सभी का विद्यालयके ---वें वार्षिकोत्सव में धन्यवाद करता हुया हार्दिक आभार व्यक्त करता हूं।

 केंद्रीय विद्यालय क्रमांक -1 चंडीगढ़ संभाग का ही नहीं बल्कि केविसं का एक उत्तम विद्यालय है। यह 1975 में स्थापित किया गया उस समय से यह चहुंमुखी उन्नति पर है।आज इस विद्यालयमें 1300 विद्यार्थी पंजीकृत है जो अपने अभिभावकों व विद्यालय का नाम गौरव प्रदान कर रहे हैं। शैक्षिक परिणाम, खेल-कूद ,पाठ्यक्रम सहगामी क्रियाओं व अन्य क्रिया-कलापों के माध्यम से संस्था का मान बढा रहें है।

 विद्यालय का शैक्षिक परिणाम अति उत्तम रहा ,कक्षा बारहवीं (वाणिज्य) ने इस साल 98.97 व विज्ञान वर्ग ने 100% ने दिया। कु. सुरभी ने विज्ञान वर्ग में 90%व कई विद्यार्थियों ने मेरिट प्राप्त करते हुए कई प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता प्राप्त की है।जैसे PMT,AIEEE,CET पास करने के बाद इंजिनियरिंग कर रहे हैं। चार विद्यार्थियों ने एन.डी.ए. पास करके एस.एस.बी. में प्रवेश किया । दसवीं कक्षा का परिणाम भी इस बार 100% रहा 5 विद्यार्थियों ने 10 CGPA प्राप्त किया ।

 शैक्षिक परिणाम का श्रेय शिक्षकों को दिया जाता है। 60 अध्यापकों की समर्पण व मेहनती टीम ने समय समय पर अपने विद्यार्थियों की प्रत्येक समस्या का हल दिया। के.विसं अधिकारियों ने भी अध्यापकों को गुणवत्ता पूर्ण शिक्षण के लिए समय समय पर कई कार्यशालाएं व कोर्सिस करवाएं। चार सेवाकालीन प्रशिक्षण शिविरों का आयोजन किया गया। प्र.स्ना. इंग़लिश के अध्यापकों का सेवाकालीन शिविरका आयोजन किया व शिक्षण की नवीन विधियों का प्रशिक्षण करवाया गया । विद्यालय के अनेक अध्यापक कई प्रशिक्षणों में भाग लेने गए। मैं इस बात को बताते हुए गर्व महसूस करता हूं कि QCI और BRITISH COUNCIL में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हमारे परियोजना कार्य चयनित हुए है। विद्यालय का होनहार विद्यार्थी मास्टर सचिन जेनेसिस कार्यक्रम के अंतर्गत जल्दही जापान जायेगा । सचिनने मैथ ओलंपियाड व अंतर्राष्ट्रीय साइबर ओलंपियाड की परीक्षा भी पास की है।कु. मीनू ने थिंक क्युसट पर निबंध प्रतियोगिता में प्रथम स्थान ग्रहण किया। विद्यालय के दो विद्यार्थियों ने टेराक्विज में प्रतिभागिता निभाते हुए राष्ट्रीय स्तर का ईनाम जीता । मैक्समूलर संस्था की ओर से आयोजियत जर्मनी चित्रकला पर भी पांच बच्चों ने ईनाम हांसिल किया।

विद्यालय पाठयक्रम के साथ- साथ बच्चों के चहुंमुखी विकास की ओर भी विद्यालय निरंतर प्रगति पर है। विद्याल्य में पाठयक्रम सहगामी क्रियाओं की सूची बना कर बच्चों को अपने गुणों को विकसित करने का मौका भी दिया जा रहा है। प्रत्येक त्योहार व अवसर पर बच्चों को उसका महत्व बताते हुए मनाने की सुखद परंपरा भी है। विद्यालय में कई तरह के क्लब भी बनाए गए है जो कई तरह की गतिविधियां आयोजित करते है।

 सामाजिक विज्ञान प्रदर्शिनी में शुभम दूबे ने तीसरा स्थान प्राप्त किया है। समूह गान राष्ट्रीय स्तर पर भी प्रदर्शित किया गया ।चार मॉडल्स राष्ट्रीय स्तर पर चयनित किए गए।

 खेल-कूद प्रतियोगिताओं में संभाग स्तर पर 22 विद्यार्थियों ने भाग लिया जिसमें 27 मैडलस पाए जिसमें 13 स्वर्ण, 09 रजत और 5 कांस्य पदक प्राप्त किए।हमारे विद्यालय की वॉस्केटबाल टीम ने उधमपुर में 30 नवंबर से 2 दिसम्बर को राष्ट्रीय स्तर पर खेलने गई। कुल 31 खिलाडियों ने अलग अलग खेल प्रतिस्पर्धाओं में भाग लिया।

गाईड़ और स्काउट का तृतीय सोपान कार्यक्रम भी यहां बडे उत्साह से सम्पन्न किया गया ।